सेक्स रैकेट: स्पा सेंटर में अंतरंग थे तीन युवक और तीन महिलाएं

उत्तराखंड के हल्द्वानी में स्पा सेंटर की आढ़ में चल रहे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश करते हुए ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल की टीम ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़ी गई महिलाएं अलग-अलग राज्यों की हैं। वहीं गिरफ्तार तीनों युवक हल्द्वानी के ही रहने वाले हैं। सीओ ट्रैफिक विभा दीक्षित और ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल प्रभारी लता बिष्ट की टीम ने शनिवार की रात करीब आठ बजे कमलुवागांजा क्षेत्र में संचालित एक स्पा सेंटर पर छापा मारकर छह लोगों को गिरफ्तार किया है। स्पा सेंटर की आढ़ में चल रहे सेक्स रैकेट की शिकायतें पिछले काफी समय से पुलिस को मिल रही थी। 
शनिवार को जब पुलिस टीम ने स्पा सेंटर की निगरानी शुरू की तो देर शाम छापा मारा। इस दौरान पंश्चिम बंगाल, दिल्ली और गुरुग्राम की रहने वाली तीन महिलाओं के साथ-साथ स्पा सेंटर संचालक कैलाश भंडारी, ग्राहक उमेश जोशी और उमेश आर्या को गिरफ्तार किया। सीओ ट्रैफिक ने बताया कि तीनों महिलाएं तलाकशुदा और विधवा हैं। इनमें से एक महिला ने एक सप्ताह पहले ही हल्द्वानी में आने की बात कही है। वहीं जानकारी के मुताबिक स्पा सेंटर में महिलाओं को दस हजार रुपये प्रतिमाह वेतन मिलने की बात सामने आई है। साथ ही ऑनलाइन बुकिंग और ऑनलाइन पेमेंट की बात भी सामने आई है। वहीं एएचटीयू प्रभारी ने बताया कि कई दिनों से उनकी टीम इस स्पा सेंटरों की निगरानी कर रही है। छापामारी के दौरान करीब छह हजार रुपये और आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है।वहीं, इससे पहले 14 मई को काशीपुर में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल (एएचटीयू) और पुलिस ने छापा मारकर एक होटल से सात युवक और आठ युवतियों को अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया था। पकड़ी गई महिलाओं में तीन शादीशुदा और दो किशोरी भी शामिल थीं। देह व्यापार में होटल संचालक और उसकी पत्नी के शामिल होने की भी बात सामने आई है। 

You May Also Like